Latest news
इनोसैंट हार्ट्स जालंधर ने मनाया सड़क सुरक्षा सप्ताह, आसाराम बापू को लेकर सेशन कोर्ट ने आज सुनाया रेप मामले में बड़ा फैसला, जालंधर में 2 दिन बाद पूर्व पार्षद विक्की कालिया का हुआ अंतिम संस्कार, बेटा नहीं दे पाया मुखाग्नि, के... केबिनेट मंत्री Aman Arora ने आवास विभाग के 19 JE को सौंपे नियुक्ति पत्र, भ्रष्टाचार के खिलाफ विजिलेंस टीम का बड़ा एक्शन, BDPO को 25000 रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों किया गिरफ्ता... सत्य और अहिंसा को पाठ पढ़ाने वाले राष्ट्रपति महात्मा गांधी जी की पुण्यतिथि पर पंजाब महिला कांग्रेस प... मान सरकार की करनी और कथनी में है भारी अंतर, जालंधर के जिलाधीश कार्यलय के कर्मचारियों ने फिर खोला सरक... जालंधर पूर्व पार्षद विक्की कालिया को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में पूर्व विधायक सहित सहित कित... फगवाड़ा में हुए भयानक सड़क हादसे में फोटोग्राफरी का काम करने वाले युवकों की हुई दर्दनाक मौत, पंजाब में फिर हुई बड़ी वारदात, युवक ने कार सवार को मारी गोली, फैली सनसनी,

के.एम.वी. की छात्राओं ने सिविल सर्विसेज़ परीक्षाओं की तैयारी के संबंध में प्राप्त की जानकारी,

PTB न्यूज़ “शिक्षा” : भारत की विरासत एवं ऑटोनॉमस, संस्था कन्या महा विद्यालय, जालंधर सदा अपनी छात्राओं के सर्वपक्षीय विकास के लिए प्रयत्नशील है. विद्यालय द्वारा छात्राओं को समय-समय पर प्रतियोगी परीक्षाओं के संबंध में जानकारी प्रदान की जाती है ताकि वह सी.ए., आई.सी.डब्ल्यू.ए., यू.जी.सी.-नेट, गेट, बैंक, पी.ओ. रेलवे आदि जैसी विभिन्न परीक्षाएं पास कर विद्यालय को गौरवान्वित कर सकें.

इसी श्रंखला के अंतर्गत विद्यालय के सेंटर फॉर कॉम्पिटेटिव एग्जामिनेशंस के द्वारा हाउ टू प्रिपेयर फॉर सिविल सर्विसेज़ एग्ज़ाम्स विषय पर एक वर्कशॉप का आयोजन करवाया गया. गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर के पॉलिटिकल साइंस विभाग से भूतपूर्व प्रोफेसर एवं डायरेक्टर, सेंटर फॉर कॉम्पिटेटिव एग्ज़ाम्स डॉ. कुलदीप सिंह ने इस वर्कशॉप में बतौर स्रोत वक्त शिरकत की.

छात्राओं से संबोधित होते हुए डॉ. कुलदीप सिंह ने मौजूदा संदर्भ में सिविल सर्विसेज़ की सकारात्मकता के बारे में विस्तार से बात की और कहा कि किसी भी प्रतियोगी परीक्षा को पास करने के लिए मुख्य रूप से विद्यार्थी का प्रतिबद्ध एवं जुनूनी होना बेहद अनिवार्य है. इसके साथ ही उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले इसके पाठ्यक्रम का अच्छी तरह विश्लेषण करना चाहिए.

और साथ ही उन्होंने तैयारी के लिए अध्ययन सामग्री के स्रोतों की विश्वसनीयता की ओर भी इशारा किया. इसके अलावा इस संबंध में उन्होंने विद्यार्थियों के स्वभाव, जीवन शैली एवं अनुशासन की ज़रूरत के बारे में चर्चा करते हुए प्राध्यापकों के महत्व को भी बखूबी समझाया और साथ ही छात्राओं के द्वारा पूछे गए विभिन्न सवालों के जवाब भी बेहद सरल ढंग से दिए.

विद्यालय प्रिंसिपल प्रो. अतिमा शर्मा द्विवेदी ने विषय की महत्वपूर्ण जानकारी छात्राओं को प्रदान करने के लिए डॉ. कुलदीप सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया और साथ ही छात्राओं को जागरूकता एवं प्लेसमेंट ड्राइव्स में पूरे जोश से भाग लेने और कॉलेज के द्वारा प्रदान किए जाते विभिन्न अवसरों का लाभ प्राप्त करने के लिए भी प्रेरित किया इसके साथ ही उन्होंने डॉ. सबीना बत्रा इंचार्ज, सेंटर फॉर कॉम्पिटेटिव एग्ज़ाम्स एवं डॉ. इकबाल सिंह के साथ-साथ में आयोजक मंडल के द्वारा किए गए प्रयत्नों की भी प्रशंसा की.

Latest News

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: