जालंधर के पूर्व मेयर ने मौजूदा मेयर पर शहर में हो रहे अवैध निर्माणों में मिलीभगत के लगाए इल्जाम,

Former Jalandhar Mayor Sunil Jyoti accused of incumbent Mayor Jagdish Raj Raja of complicity in illegal constructions in the city When PTB News asked the current Mayor about illegal construction in the city, he gave this answer Jalandhar

मौजूदा मेयर से जब पीटीबी न्यूज़ ने शहर में हो रहे अवैध निर्माणों संबंधी सवाल पूछा तो उन्होंने दिए यह जवाब,

(पढ़ें और देखें पीटीबी न्यूज़ पर)

PTB City न्यूज़ जालंधर (एडिटरों-इन-चीफ) राणा हिमाचल : जालन्धर जिले के अधीन पड़ती नगर निगम हमेशा ही सुर्ख़ियों में बनी रही है, चाहे वह सड़कों का मुद्दा हो, चाहे LED लाइटों का और चाहे हो नगर निगम में काम करने वाले कर्मचारियों को पक्का करने और सैलरी रोकने का मुद्दा, इन सभी बातों को मुद्दा बनाकर हमेशा ही जालंधर नगरपालिका में आज तक मेयर तो बनते रहे, लेकिन नगर निगम को इन सभी मुद्दों के खिलाफ कोई भी मेयर कुछ खास कदम नहीं उठा पाया /

.

इसका सबसे बड़ा कारण यह भी है कि नगर निगम जालंधर में कई सालों से चल रहे भ्रष्टाचार को ना रोक पाना और नगर निगम जालंधर में होने वाली कम कमाई और घाटों के चलते कोई भी भूतपूर्व मेयर और मौजूदा मेयर ना तो कुछ ठोस कदम अभी तक उठाये पाए और ना मौजूदा मेयर कुछ खास कर पाए हैं, सिर्फ हो रहा है तो बस जिला जालंधर में स्केंडल पर स्केंडल, जहां एक तरफ अवैध कॉलोनियां बन रही हैं, तो दूसरी तरफ अवैध इमारतें, वह चाहें फिर रिहायशी हों या फिर हों कमर्शियल, सभी में छोटे से लेकर ऊपर दर्जे के अधिकारी मिल बाँट कर कहा रहे हैं, लेकिन सभी बने हुए हैं अनजान, आखिर क्यों?

.

इसी मुद्दे को लेकर जब हमें पूर्व मेयर और भाजपा के सीनियर नेता सुनील ज्योति से सम्पर्क कर इस मुद्दे संबंधी वार्तालाप किया तो उन्होंने पीटीबी न्यूज़ के सभी प्रश्नों के उत्तर बड़े ही बेबाक तरिके से देते हुए कहा कि सभी मिल बांट कर खा रहे हैं, खुद मेयर जगदीश राज राजा के अपने हल्के जहां से वह पार्षद भी हैं में कई अवैध निर्माण हो रहे हैं जिसके बारे में सभी निगम अधिकारीयों को पता है, लेकिन फिर भी वह ना तो कुछ कर रहे हैं और ना ही कुछ करना चाहते हैं /

PTB News ने इसके बाद उनसे पूछा की क्या नक्शा पास होने के बावजूद अगर कोई उस नक्शे के विपरीत होकर किसी भी इमारत का निर्माण चाहे वह रिहाइशी हो या फिर कमर्शियल क्या वह अवैध में नहीं आता? तो उन्होंने कहा कि कानून सबके लिए एक समान है और नक्शा पास होना ही सही नहीं बल्कि उस नक्शे के मुताबिक निर्माण भी करना जरूरी है, अगर कोई उस नक्शे के मुताबिक नहीं चलता तो उसकी बिल्डिंग को Demolish कर दिया जाता है या फिर सील कर दिया जाता है / फिर भी अगर ऐसे निर्माण हो रहे हैं तो वह मौजूदा मेयर को सभी अधिकारीयों के साथ मिलकर मीटिंग कर इन्हें रोकना चाहिए ताकि जो रेवन्यू नीचे दर्जे के अधिकारी अंदर खाते में खा जाते हैं वह निगम के खजाने को भरने में काम आये और निगम घाटे से उभर सके /

.

शहर में हो रहे ऐसे अवैध-निर्माणों के बारे में जब हमें यानि PTB News ने मौजूदा मेयर से सम्पर्क किया तो उन्होंने सारी बात सुनने के बाद कहा कि अगर ऐसा कुछ हो रहा है तो आप हमें बिल्डिंग संबंधी पूरी जानकारी हमें खुल कर बताएं और हमें व्हाट्सअप करें ताकि हम उसके खिलाफ सख्त एक्शन ले सकें, अब सवाल यह उठता है कि मीडिया क्या शहर में हो रही हर एक अवैध बिल्डिंग जिसका नक्शा पास तो है लेकिन वह नीचे दर्जे के अधिकारयों के छत्रछाया में नक्शे के मुताबिक नहीं बन रही है को ढूंढकर मौजूदा मेयर जगदीश राज राजा को व्हाट्सअप करते रहें, यह काम किन लोगों का है? क्या नीचे दर्जे के अधिकारयों को निगम मोटी सैलरी नहीं देता / यह ऐसे सवाल हैं जो शायद जगदीश राज राजा लगता है खुद भी देना नहीं चाहते /

.

इस तरह के अवैध निर्माण हो रहे हैं उसके लिए पीटीबी न्यूज़ की टीम नगर निगम जालंधर के जॉइंट कमिश्नर हरचरण सिंह से मिल चुकी है और उनको शहर में व मेयर के खुद के वार्ड में अवैध निर्माण संबंधी जानकारी भी दे चुकी है, जिसका शायद उनको पता नहीं था? हमारी बात सुनने के बाद उन्होंने इस मामले में खदु ठोस कदम उठाते हुए उस इलाके में इंस्पेक्टर, ATP, STP से सम्पर्क कर मामले की जानकारी देते को कहा, लेकिन जिस निगम ग्रुप में यह बात हुई उसमें अधिकारीयों द्वारा नक्शा होने की बात तारीख के साथ तो लिख दी गई, लेकिन यह नहीं बताया गया की नक्शे के हिसाब से निर्माण नहीं हो रहा / आखिर क्यों सीनियर अधिकारीयों को नीचे दर्जे के अधिकारी भर्मित करने का काम करते हैं, यह ऐसे सवाल हैं जो मौजूदा मेयर और सीनियर अधिकारीयों को अपने कर्मचारियों और नीचे दर्जे के अधिकारयों से पूछने चाहिए /

.

इस ख़बर के लगने से पहले ही निगम के कई छोटे अधिकारी बिखला चुके थे जब इस तरह के शहर में हो हरे अवैध निर्माणों संबंधी पीटीबी न्यूज़ उच्च अधिकरियों से बात कर रहा था / अगर इस मामले में शहर में ख़ास कर मौजूदा मेयर के खुद के इलाके में कोई करवाई या जाँच नहीं की गई तो कई अवैध निर्माण जोकि नक्शा होने के बावजदू गलत तरिके से बन रही हैं का बेबाक तरिके से खुलासा करेगा / हलांकि जॉइंट कमिशनर हरचरण सिंह ने भरोसा दिया है कि वह खुद इन हो रहे अवैध निर्माण के बारे में जाँच करेंगे /

.

 

 

 

 

हमारे फेसबुक पेज www.facebook.com/ptbnewsonline/ को लाईक करें और हमारे Youtube Channel https://www.youtube.com/ptbnewsonline/ को Subscribed करें और अपने शहर और आसपास की खबरें देखें सबसे पहले,

साथ ही आप हमारे Telegram नंबर 9815505203 पर न्यूज़ Updates पाने और WhatsApp नंबर 9592825203 पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर को अपने Mobile में Save करके या तो हमारे नंबर को अपने किसी ग्रुप में एड कर लें ताकि आपको, आपके पारिवारिक सदस्यों को, आपके दोस्तों को भी अपने शहर और आसपास की खबरें न्यूज़ मिल सकें या फिर हमें अपना पूरा नाम, शहर का नाम और इलाका जरूर लिखकर भेजें ताकि हम आपके नाम को Save करके किसी ग्रुप में एड कर सकें,

Former Jalandhar Mayor Sunil Jyoti accused of incumbent Mayor Jagdish Raj Raja of complicity in illegal constructions in the city When PTB News asked the current Mayor about illegal construction in the city, he gave this answer Jalandhar

error: Content is protected !!