PTB News

Latest news
पुलिस कमिश्नरेट जालंधर ने रैस्टोरैंट, क्लब और लाइसेंसशुदा खाने-पीने का काम करने वालों को जारी किये स... केएमवी छात्राओं के लिए ऑटोनमस स्टेटस के तहत रिटेस्ट और तुरंत निवारण की सुविधा कर रहा प्रदान, इनोसेंट हार्ट्स स्कूल ने ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए अंग्रेजी भाषण प्रतियोगिता का क... सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी ने हवन पूजन के साथ किया शैक्षणिक सत... जालंधर उपचुनाव में बड़ी बाजी मारने वाले मोहिंदर भगत ने आज चंडीगढ़ में ली शपथ, मुख्यमंत्री भगवंत मान भी... अब इस राज्य के बेरोजगार लड़कों को मिलेंगे हर महीने 10 हजार रुपए, सरकार ने किया ऐलान, 15 अगस्त से, सभी उम्र की महिलाओं को इस राज्य के मुख्यमंत्री ने दी मुफ्त यात्रा करने की सुविधा देने क... अमेरिका जाने के चक्कर में पंजाब के युवक ने लाखों खर्च कर घूमीं पूरी दुनिया, अंत में पहुंच गया जेल, ट... पंजाब : 17 जिलों में आज से दो दिनों के लिए बारिश का मौसम विभाग ने किया येलो अलर्ट, तेज आंधी की भी दी... सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने यूनिवर्सिटी रिजल्ट में मारी बाजी...
Translate

कनाडा में नौकरी का झांसा देकर ट्रैवल एजेंट ने की लाखों की ठगी, बायोमेट्रिक के नाम पर हड़पे 5 लाख, FIR हुई दर्ज,

haryana-panipat-immigration-fraud-samalkha-village-atta-travel-agent-fraud-fir-ragistered

.

PTB Big न्यूज़ पानीपत : एक युवक को कनाडा भेजकर और वहां पर नौकरी लगवाने का झांसा देकर एक ट्रैवल एजेंट द्वारा लाखों की ठगी कर लेने का बड़ा मामला सामने आया है। यह सनसनखेज मामला हरियाणा के पानीपत जिले के समालखा कस्बे का बताया जा रहा है जहां के एक घर पर आने-जाने वाले तीन युवकों ने इस बड़ी घटना को अंजाम दिया है। आरोपियों ने युवक को झांसे में लेकर करीब 9 लाख रुपये ऐंठ लिए और न तो उसे विदेश भेजा और न ही पैसे लौटाए।

.

.

यही महीन इसके बाद आरोपियों ने पीड़ित को जवाब देना भी बंद कर दिया है, जिसके बाद पीड़ित ने मामले की शिकायत पुलिस को दी है। शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। समालखा थाना पुलिस को दी शिकायत में नवनीत ने बताया कि वह गांव जौरासी खालसा का रहने वाला है। उसका काफी समय से गांव अट्टा निवासी सुरेंद्र और कुलवंत के घर आना-जाना था।

.

15 अगस्त 2022 को दोनों ने उसे बताया कि उनका भतीजा बच्चों को विदेश भेजने का काम करता है। तुम्हारे भाई सचिन को हम कनाडा भेज सकते हैं। इसके लिए तुम्हें 24 लाख रुपए देने होंगे। कनाडा भेजकर वहां काम भी दिलवा देंगे। उनकी बातों पर विश्वास कर 20 सितंबर को तीनों आरोपी उसके घर पहुंचे, और उन्होंने 4 लाख रुपए का चेक ले लिया। आरोपियों ने उसे विश्वास दिलवाया कि वीजा के लिए अप्लाई कर दिया है। उसमें कुछ समय लगता है, काम मार्च 2023 तक हो जाएगा।

.

.

11 अप्रैल 2023 को आरोपी फिर से उसके घर गए और कहा कि तुम्हारे भाई के बायोमेट्रिक फिंगर होने हैं और 5 लाख रुपए ले गए। इसके बाद उनसे कई बार बात की, तो वे हर बार अलग-अलग बात कहकर टालते रहे। कुछ दिन बाद उन्होंने उसके फोन का जवाब देना बंद कर दिया। जब आरोपियों के घर गए, तो उन्होंने कहा कि काम पक्का होगा, नहीं हुआ तो वे पैसे वापस कर देंगे। अब एक साल से ज्यादा का समय हो गया, आरोपियों ने न ही कनाडा भेजा और न ही रुपए लौटाए। जांच-पड़ताल के दौरान पता लगा कि आरोपियों के खिलाफ इसी तरह कबूतरबाजी के पहले भी कई मामले समालखा थाना में दर्ज हैं।

.

.

Latest News