Latest news
हिमाचल प्रदेश में हुआ दर्दनाक हादसा, कार के ऊपर पलटा ट्रक, 3 लोगों की हुई दर्दनाक मौत, भारत में आज से शुरू हुआ 5G इंटरनेट, नो बफरिंग-नो फ्रीजिंग, अमेजिंग स्पीड की मिलेगी सुविधा, PAP कैंपस में रक्तदान शिविर का किया गया आयोजन, ADGP एम एफ फारूकी द्वारा की गई शिविर की शुरुआत, आज से गैस सिलेंडर के दामों में हुई भारी कटौती, किनता हुआ सस्ता, आप विधायक बलजिंदर के खिलाफ गैर जमानती वारंट हुआ जारी, जाने वजह, पंजाब में फिर चली गोलियां, एक गंभीर रूप से हुआ घायल, मचा हड़कंप, के.एम.वी. द्वारा वंडर्स ऑफ़ वैदिक मैथमेटिक्स विषय पर अंतरराष्ट्रीय वर्कशॉप का आयोजन, PCM SD कॉलेज फॉर विमेन जालंधर की बी.वॉक (वेब ​​डिजाइनिंग और आईटी) सेमेस्टर चौथे की छात्रा ने शीर्ष स... एच.एम.वी. ने करवाए प्रोग्रामिंग मुकाबले, इनोसेंट हार्ट्स कॉलेज ऑफ एजुकेशन जालंधर में गांधी जयंती समारोह का आगाज़,
 

राजस्थान में क्रेश हुआ MiG 21, हिमाचल का मोहित हुआ शहीद, शौक में डूबा गांव,

PTB Sad न्यूज़ चंडीगढ़ : राजस्थान के बाड़मेर में भारतीय वायु सेना का मिग-21 विमान क्रैश की घटना में हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के संधोल के रहने वाले पायलट मोहित भी शहीद हुआ है। इस हादसे में दो पायलट शहीद हुए हैं। हादसा वीरवार रात को हुआ था। मोहित पायलट के पद पर तैनात था। वहीं दूसरे शहीद पायलट की पहचान अद्वितीय बल के तौर पर हुई है, जो कि जम्मू के रहने वाले थे।

शहीद पायलत मोहित का पूरा परिवार चंडीगढ़ में रहता है। ऐसे में मोहित का अंतिम संस्कार भी चंडीगढ़ में ही करने की बात कही जा रही है। 15 दिन पहले ही मोहित छुट्टियों के दौरान अपने पैतृक गांव आया था। हालांकि मोहित का सारा परिवार चंडीगढ़ में ही रहता है। मोहित के पिता राम प्रकाश भारतीय सेना से कर्नल के पद से सेवानिवृत हुए हैं।

हालांकि अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है, लेकिन बताया जा रहा है कि मोहित का अंतिम संस्कार चंडीगढ़ में ही होगा। डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने मोहित के शहीद होने की पुष्टि की है। बता दें कि भारतीय वायुसेना का एक मिग-21 लड़ाकू विमान राजस्थान के बाड़मेर जिले के भिमडा गांव में क्रैश हो गया। वायुसेना ने आधिकारिक बयान में फाइटर प्लेन के दो पालयट के शहीद होने की पुष्टि की है। पायलट मोहित के शहीद होने की खबर सुनकर उनके गांव में मातम छा गया है।

गांव के लोग उनके पैतृक घर पहुंचने लगे हैं। गांव में मोहित के ताया और चाचा रहते हैं। वहीं गांव के कुछ लोग चंडीगढ़ के लिए भी रवाना हुए हैं। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि मोहित का पार्थिव शरीर चंडीगढ़ कब पहुंचेगा। बताया जा रहा है कि मोहित का अंतिम संस्कार चंडीगढ़ में ही किया जाएगा इसलिए उनके गांव के लोग और रिश्तेदार चंडीगढ़ आ रहे हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: