Latest news
मुख्यमंत्री द्वारा अपनी किस्म के पहले निवेकले प्रोग्राम ’लोक मिलनी’ की शुरूआत, Ukerain-Russia जंग के बीच रूस से आई बड़ी ख़बर, रुसी राष्ट्रपति को हुई गंभीर बीमारी, ਲਾਇਲਪੁਰ ਖ਼ਾਲਸਾ ਕਾਲਜ, ਜਲੰਧਰ ਵਿਖੇ ਪੰਜਾਬੀ ਫਿਲਮ ‘ਕੋਕਾ’ ਦੀ ਸਮੁੱਚੀ ਟੀਮ ਪਹੁੰਚੀ, पंजाब पुलिस के कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, पंजाब में आतंकवादी गतिविधियां बढ़ने पर लिया गया फैसला, सेंट सोल्जर के पीएसईबी के +2 की पहली टर्म के परिणाम शानदार, निहंग सिंहों ने पीट-पीट कर दी युवक की हत्या, घटना के बाद परिवार और गांववासियों ने हाईवे किया बंद, डिजिटल दुष्कर्म के आरोप में 80 साल के चित्रकार को किया पुलिस ने गिरफ्तार, कामेडियन भारती सिंह को विवादित टिप्पणी करना भारी, पंजाब में एफआइआर दर्ज करने की मांग, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इस राज्य में होगी इस तारीख को जोरदार बारिश, भगवंत मान के जनता दरबार कार्यक्रम में जमकर किया लोगों ने हंगामा, जाने पूरा मामला,
 

भीख में मिली आजादी’ वाले बयान पर एक बार फिर बुरी तरह से फंसी अभिनेत्री कंगना रनौत,

PTB News मनोरंजन / मुंबई : कंगना रनौत का आजादी पर दिए बयान का मामला अभी शांत नहीं हो रहा है। कंगना के खिलाफ इस मामले में देश के अलग-अलग हिस्सों में कई सारी शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं। अभी इस मामले में एक ताजा शिकायत दर्ज हुई है। कंगना के ख़िलाफ 28 दिसंबर को मुंबई कांग्रेस जनरल सेक्रेटरी भरत सिंह ने इस बेतुके बयान के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। इस बयान में उस पर एक और केस होना उनके लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है।

कंगना ने बहुत पहले ही ये विवादित बयान दिया था उसके बाद कंगना को बहुत आलोचना झेलनी पड़ी थी। अब इतने दिन बाद फिर इस मामले को उठाया जा रहा है। शिकायत विले पार्ले पुलिस स्टेशन में एडवोकेट आशीष राय और अंकित उपाध्याय के जरिए दर्ज कराई गई है। इसमें कहा गया है कि कंगना रनौत का ये गैरजिम्मेदाराना बयान इंटरव्यू के जरिये विश्वभर में गया था। इस बयान ने भारतीय नागरिकों, महान पूर्व स्वतंत्रता सेनानियों, नायकों और पूर्व नेताओं की राष्ट्रीय गरिमा और सम्मान को ठेस पहुंचाई है।

बता दें कि कंगना रनौत ने एक इंटरव्यू में कहा था कि हमें भीख में आजादी मिली है जिसके बाद से काफी विवाद हुआ है। उनके इस बयान पर हर तरफ आलोचना हो रही है, के जगह तो उन पर एफआईआर भी कर की गई है। कई पॉलिटिकल पार्टीज का कहना है कि उनपर देशद्रोह का मुकद्दमा चलाया जाए। लगातार हो रहे विवाद के बीच कंगना ने लंबी इंस्टाग्राम स्टोरी लगा कर अपने बयान को सही बताया है। 

उन्होंने लिखा है कि वह अपना पद्मश्री सम्मान वपास कर देंगी अगर कोई उन्हें ये बताएगा कि 1947 में क्या हुआ था? कंगना के ये बयान उसका पीछा नहीं छोड़ रहा है। कंगना ने अपने इस बयान पर कई बार सफाई देने की कोशिश की लेकिन वो अपने बयान पर टिकी हुई दिखाईं दी थी। कंगना को कुछ दिनों पहले पंजाब में किसानों की एक भीड़ ने घेर लिया था जिसकी जानकारी कंगना ने अपने इंस्टाग्राम के मध्याम से दी थी।

error: Content is protected !!