Latest news
हिमाचल प्रदेश में हुआ दर्दनाक हादसा, कार के ऊपर पलटा ट्रक, 3 लोगों की हुई दर्दनाक मौत, भारत में आज से शुरू हुआ 5G इंटरनेट, नो बफरिंग-नो फ्रीजिंग, अमेजिंग स्पीड की मिलेगी सुविधा, PAP कैंपस में रक्तदान शिविर का किया गया आयोजन, ADGP एम एफ फारूकी द्वारा की गई शिविर की शुरुआत, आज से गैस सिलेंडर के दामों में हुई भारी कटौती, किनता हुआ सस्ता, आप विधायक बलजिंदर के खिलाफ गैर जमानती वारंट हुआ जारी, जाने वजह, पंजाब में फिर चली गोलियां, एक गंभीर रूप से हुआ घायल, मचा हड़कंप, के.एम.वी. द्वारा वंडर्स ऑफ़ वैदिक मैथमेटिक्स विषय पर अंतरराष्ट्रीय वर्कशॉप का आयोजन, PCM SD कॉलेज फॉर विमेन जालंधर की बी.वॉक (वेब ​​डिजाइनिंग और आईटी) सेमेस्टर चौथे की छात्रा ने शीर्ष स... एच.एम.वी. ने करवाए प्रोग्रामिंग मुकाबले, इनोसेंट हार्ट्स कॉलेज ऑफ एजुकेशन जालंधर में गांधी जयंती समारोह का आगाज़,
 

पंजाब व हिमाचल का नाम रोशन किया वेट लिफ्टिंग में सिल्वर मेडल विजेता विकास ठाकुर ने,

हर जगह जीत का जश्न, मूसेवाला का बड़ा फैन, सिल्वर मेडल जीतते ही सिद्धू के अंदाज में मनाया जश्न,

PTB Big न्यूज़ लुधियाना / हिमाचल प्रदेश : वेट लिफ्टिंग में सिल्वर मेडल विजेता विकास ठाकुर दिवंगत पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के बड़े फैन रहे हैं। भारत से बर्मिंघम तक की यात्रा में मूसेवाला के गीत सुनते हुए विकास आए हैं। बड़ी बात यह है कि विकास ने मूसेवाला की हत्या के 2 दिन बाद तक खाना नहीं खाया था। विकास ठाकुर ने कामवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीतने के बाद मूसेवाला के अंदाज में जांघ पर हाथ मारकर जश्न मनाया।

उनका कहना था कि पंजाबी थप्पी सिद्धू मूसेवाला को श्रद्धांजलि थी। हालांकि विकास का कहना है कि मैं कभी मूसेवाला से मिला नहीं, लेकिन उनके गीत हमेशा मेरे साथ रहेंगे। यहां आने से पहले भी मैं वही सुन रहा था। मैं हमेशा उनका बड़ा प्रशंसक रहूंगा। गाैरतलब है कि पंजाबी गायक मूसेवाला की 29 मई 2022 काे मानसा जिले में गाेलियां मारकर हत्या कर दी गई थी।

स्वजनाें ने बताया कि विकास कुंवारा है। कामनवेल्थ गेम्स में जाने से पहले हमने उसकी शादी कराने के बारे में कहा था। तब उसने कहा कि वह अभी शादी नहीं करेगा। पदक जीत कर आऊंगा तो शादी करूंगा। अब उसकी शादी धूमधाम से कराएंगे। विकास की मां आशा ठाकुर ने बताया कि बेटे ने जन्मदिन पर बड़ा तोहफा दिया है। उसने फोन कर मुझे बधाई भी दी और कहा था कि मां जिस दिन आपका जन्मदिन है। उसी दिन मैं मेडल जीतना चाहता हूं और आप को और देश को तोहफा देना चाहता हूं।

पिता बृजलाल ठाकुर रेलवे में ट्रेन मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने कहा कि बेटे ने जो मान बढ़ाया है, उसे कभी भूला नहीं जा सकता। हर घर में विकास जैसा बेटा पैदा हो, जिसने हर परिस्थिति में संघर्ष कर मंजिला पाई है। हम लगातार उसका प्रदर्शन देख रहे थे। उन्हें पूरी उम्मीद थी कि वह मेडल जरूर जीतेगा। एयरफोर्स में वारंट अफसर के रूप में सेवाएं देने वाले विकास वर्तमान समय में एनआइएस पटियाला में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे। वह सात बार 2013, 2014, 2015, 2016, 2018, 2019 और 2020 में नेशनल चैंपियन रहे हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: