Latest news
पंजाब के पूर्व डिप्टी स्पीकर चरणजीत सिंह अटवाल का हुआ भयानक एक्सीडेंट, गाड़ी का हुआ बुरा हाल, अब नहीं होगी FIR गन कल्चर को लेकर, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पंजाब के DGP को क्या दिए निर्दे... हे भगवन, IG साहब की सरकारी पिस्टल और 25 कारतूस ही चुरा ले गये चोर, पुलिस जांच में जुटी, आखिर क्या है... गन कल्चर प्रमोट करने के मामले में 10 साल के बच्चे पर ही पुलिस ने दर्ज कर दी FIR, आखिर क्या है मामला, पंजाब में हथियारों के बल पर दिन-दिहाड़े हुई लाखों की लूट, CCTV में हुए कैद, बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन को लेकर आई बड़ी ख़बर, कोर्ट यह जारी किये आदेश, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की हो सकती है हत्या, बीजेपी नेता मनोज तिवारी के खिलाफ FIR हुई... गुरु रामदास की नगरी में चली गोलियां, दर्जन भर युवकों ने दातर व लोहे की रॉड से युवक को पीटा, अधमरा कर... बड़ी वारदात, कपड़ा व्यापारी से हथियार के बल पर होशियारपुर के लुटेरे ने लुटे रूपये, पुलिस ने किया गिरफ... पंजाब के DGP का देखने को मिला सख्त रुख, लिया जनता के हित में बड़ा फैसला, कहा गलत चाहे कोई भी हो किसी ...

भारत में आज से शुरू हुआ 5G इंटरनेट, नो बफरिंग-नो फ्रीजिंग, अमेजिंग स्पीड की मिलेगी सुविधा,

PTB Big न्यूज़ नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक नए तकनीकी युग की शुरुआत करते हुए आज देश में 5जी सेवाओं का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री ने भारतीय मोबाइल सम्मेलन (आईएमसी) के छठे संस्करण के उद्घाटन के साथ ही देश में 5 जी सेवाओं का भी शुभारंभ किया। आईएमसी 2022 का आयोजन 01 से 04 अक्टूबर तक ‘न्यू डिजिटल यूनिवर्स’ विषय के साथ किया जा रहा है।

मोदी द्वारा चुनिंदा 13 शहरों में लॉन्च किया जायेगा। 5जी अगले कुछ वर्षों में पूरे देश को कवर करेगा। 5जी तकनीक से निर्बाध कवरेज, उच्च डेटा दर, कम विलंबता और अत्यधिक विश्वसनीय संचार सुविधाऐं प्राप्त की जा सकेंगी। इससे ऊर्जा दक्षता, स्पेक्ट्रम दक्षता और नेटवर्क दक्षता में भी बेहतर रूप से सुधार होगा। इस मौके पर संचार, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव और संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान के साथ ही देश की प्रमुख दूरसंचार कंपनियों के प्रमुख भी मौजूद थे।

इसमें रिलायंस जियो का संचालन करने वाली कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष मुकेश अंबानी, भारती एयरटेल के सुनील भारती मित्तल और वोडाफोन आइडिया के कुमार मंगलम बिरला, रिलायंस जियो के अध्यक्ष आकाश अंबानी मौजूद थे। मोदी ने प्रदर्शनी का भी अनावरण किया। उन्होंने रिलायंस जियो और एयरटेल के स्टॉल में 5 जी प्रौद्योगिकी के उपयोग को देखने के साथ ही स्टार्ट अप के पवेलियन में भी उनके द्वारा विकसित उपकरणों को भी देखा। इसके साथ ही सी डॉट द्वारा विकसित स्वदेशी 5जी कोर का भी अनावरण किया।

प्रधानमंत्री ने करीब एक घंटे तक प्रदर्शनी को देखा और 5 जी, 4 जी के साथ ही आईआईटी, मशीन लर्निंग जैसे अत्याधुनिक प्रोद्योगिकी को देखा। भारत में 5जी तकनीक की क्षमता दिखाने के लिए देश के 3 प्रमुख टेलीकॉम ऑपरेटर्स ने एक-एक कर प्रधानमंत्री के सामने डेमो दिया। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो ने मुंबई के एक स्कूल के शिक्षक को महाराष्ट्र, गुजरात और ओडिशा में तीन अलग-अलग स्थानों के छात्रों से जोड़ा।

इससे प्रदर्शित हुआ कि कैसे 5G शिक्षकों को छात्रों के करीब लाकर, उनके बीच की शारीरिक दूरी को मिटाकर शिक्षा की सुविधा प्रदान करेगा। जियो के डेमा ने स्क्रीन पर ऑगमेंटेड रियलिटी (AR) की शक्ति को प्रदर्शित किया और बताया कि इसका उपयोग देश भर के बच्चों को एआर डिवाइस की आवश्यकता के बिना, दूरस्थ रूप से सिखाने के लिए कैसे किया जा सकता है।

एयरटेल के डेमो में, उत्तर प्रदेश की एक लड़की ने वर्चुअल रियलटी और ऑगमेंटेड रियलिटी की मदद से सोलर सिस्टम के बारे में जानने के लिए एक जीवंत अनुभव का आनंद लिया। उसने होलोग्राम के माध्यम से मंच पर उपस्थित होकर प्रधानमंत्री के साथ सीखने के अपने अनुभव को साझा किया। वोडाफोन-आइडिया ने डेमो में दिल्ली मेट्रो की एक निर्माणाधीन सुरंग में कामगारों की सुरक्षा को मंच पर

सुरंग के ‘डिजिटल ट्विन’ के निर्माण के माध्यम से प्रदर्शित किया। डिजिटल ट्विन दूरस्थ स्थान से वास्तविक समय में श्रमिकों को सुरक्षा अलर्ट देने में मदद करेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने वीआर और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग करके वास्तविक समय में काम की निगरानी के लिए मंच से लाइव डेमो देखा।

Latest News

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: