PTB News

Latest news
पुलिस कमिश्नरेट जालंधर ने रैस्टोरैंट, क्लब और लाइसेंसशुदा खाने-पीने का काम करने वालों को जारी किये स... केएमवी छात्राओं के लिए ऑटोनमस स्टेटस के तहत रिटेस्ट और तुरंत निवारण की सुविधा कर रहा प्रदान, इनोसेंट हार्ट्स स्कूल ने ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए अंग्रेजी भाषण प्रतियोगिता का क... सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी ने हवन पूजन के साथ किया शैक्षणिक सत... जालंधर उपचुनाव में बड़ी बाजी मारने वाले मोहिंदर भगत ने आज चंडीगढ़ में ली शपथ, मुख्यमंत्री भगवंत मान भी... अब इस राज्य के बेरोजगार लड़कों को मिलेंगे हर महीने 10 हजार रुपए, सरकार ने किया ऐलान, 15 अगस्त से, सभी उम्र की महिलाओं को इस राज्य के मुख्यमंत्री ने दी मुफ्त यात्रा करने की सुविधा देने क... अमेरिका जाने के चक्कर में पंजाब के युवक ने लाखों खर्च कर घूमीं पूरी दुनिया, अंत में पहुंच गया जेल, ट... पंजाब : 17 जिलों में आज से दो दिनों के लिए बारिश का मौसम विभाग ने किया येलो अलर्ट, तेज आंधी की भी दी... सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों ने यूनिवर्सिटी रिजल्ट में मारी बाजी...
Translate

शिव सेना, अकाली, कांग्रेस और अब भाजपा में शामिल हो चुके अरविंद मिश्रा को लग सकता है एक और झटका,

Arvind Mishra Shiv Sena Akali Congress BJP face another setback owners Bath Castle blackmail opened regarding old cases Vigilance Bureau

Bath Castle के मालिकों को ब्लैकमेल करना पड़ेगा भारी, पुराने मामलों को लेकर भी खुलेंगी फाइलें,

पीटीबी न्यूज़ जालंधर (एडिटर-इन-चीफ) राणा हिमाचल : जालंधर में देर रात जो हुआ उससे सभी वाकिफ हो चुके हैं, लेकिन अभी इस सारे घटनाक्रम के बाद विजिलेंस की रडार में आ चुके भाजपा नेता यानि अरविन्द मिश्रा उर्फ़ अरविंद शर्मा अब जल्द ही GRP पुलिस व भाजपा के दिग्गज नेताओं की रडार पर भी रात से ही आ चूका हैं।

आपको बता दें कि अरविन्द मिश्रा उर्फ़ अरविंद शर्मा नेतागिरी की आढ़ में निगम अधिकारियों के साथ मिलकर लोगों को ब्लैकमेल करने का धंधा कर रहा था। विजीलैंस की टीम का नेतृत्व कर रहे DSP अजय कुमार फ्लाइंग स्क्वाड ने देर रात नगर निगम के एटीपी पद पर रहे रवि शर्मा, अरविंद मिश्रा उर्फ अरविंद शर्मा, उसके साथी कुणाल कोहली आशीष को गिरफ्तार कर, आरोपियों के कब्जे से ब्लैकमेल कर ऐंठे जा रहे लाखों रूपए भी बरामद कर लिए और अपने साथ मोहाली ले गई।

Arvind Mishra Shiv Sena Akali Congress BJP face another setback owners Bath Castle blackmail opened regarding old cases Vigilance Bureau

आपको यह भी बता दें कि बीती रात विजीलेंस ने ट्रैप लगाकर इन लोगों को काबू किया खुलासा हुआ है कि ये लोग प्रतिष्ठित बाठ कैसल के मालिकों को ब्लैकमेल कर रहे थे। बाठ कैसल के नरेन्द्र बाठ ने विजीलैंस में शिकायत दी थी कि उक्त लोग पिछले कुछ समय बाठ कैसल में निर्माण को लेकर परेशान कर रहे हैं।

इस दौरान विजिलेंस टीम को नरेन्द्र बाठ ने यह भी बताया की अरविंद मिश्रा, कुणाल कोहली और एटीपी रवि पंकज द्वारा उनसे 20 लाख रूपए की मांग की जा रही थी। उनसे एक-एक लाख करके दो बार ले लिए गए हैं, लेकिन बाद में उन्हें और पासे देने के लिए परेशान किया जाने लगा। बाठ कैसल के संचालकों द्वारा इस मामले में शिकायत जालंधर विजीलैंस की बजाए चंडीगढ़ में इस लिए की गई थी, क्योंकि उनको शक था की कहीं यह कहीं बच न निकलें और मोहाली टीम का ट्रैप फेल ना हो, इसलिए विजीलैंस विभाग के अधिकारियों द्वारा स्पैशल टीम गठित की गई।

देर रात जब अरविंद मिश्रा, रवि पकंज और कुणाल कोहली, आशीष जब नरेन्द्र बाठ से 8 लाख रूपए लेने गए तो रंग लगे 8 लाख के नोट लेते ही विजीलैंस ने रेड कर दी और सभी ब्लैकमेलरों को अरेस्ट कर लिया। विजीलेंस रेड होते ही अरविंद मिश्रा, कुणाल कोहली और आशीष अरोड़ा द्वारा हंगामा करना शुरू कर दिया गया और इस दौरान उनकी और से टीम के साथ हाथापाई भी की गई, लेकिन विजीलैंस टीम ने बड़ी बहादुरी से तीनों को काबू कर लिया।

वहीं इस संबंध में जब PTB न्यूज़ की टीम ने फ्लाइंग स्क्वाड विजीलैंस की टीम का नेतृत्व कर रहे DSP अजय कुमार से सम्पर्क किया तो उन्होंने कहा कि इन सभी आरोपियों को माननीय अदालत में पेश पर इनका रिमांड लिया जायेगा और अभी तक इन्होंने कहां-कहां किस-किस से ब्लेकमेलिंग के इलावा क्या कुछ ठगा है से संबंधित पूछताछ की जाएगी।

Arvind Mishra Shiv Sena Akali Congress BJP face another setback owners Bath Castle blackmail opened regarding old cases Vigilance Bureau

वहीं आपको यह भी बता दें की अरविंद मिश्रा द्वारा अपने फेसबुक पर कुछ दिन पहले रेलवे स्टेशन के स्टेटस अपलोड किया था, जिसमें वह GRP पुलिस कर्मचारियों के बीच नज़र आ रहा है और इस दौरान अरविंद मिश्रा ने पोस्ट करते हुए DGP GRP का धन्यवाद् करते हुए लिखा था कि थैक्यू DGP GRP एंड RPF ट्रेन ट्रैवलिंग wich एस्कोर्ड़ करने के लिए, अब देखना यह होगा कि इस गंभीर मामले कि जानकारी मिलते ही DGP रेलवे भी कोई जाँच करते हैं की जिस पत्र के मध्यम से अरविंद ने ट्रेन में रेलवे पुलिस की एस्कोर्ड़ हासिल की थी वह वाकई में सही था या फर्जी?

वहीं अरविंद मिश्रा उर्फ़ अरविंद शर्मा की विजिलेंस की टीम द्वारा गिरफ़्तारी के बाद बीजेपी के खेमें में चर्चों का दौर शुरू हो चूका है, क्योंकि देर रात हुई विजिलेंस की इस करवाई के बाद जब पीटीबी न्यूज़ ने बीजेपी के सीनियर नेता जीवन गुप्ता जी से सम्पर्क क्या तो उन्होंने कहा की फ़िलहाल इस मामले में उनको अभी तक कोई जानकारी तो नहीं है, लेकिन अगर इस तरह से कोई गिरफ़्तारी हुई है तो यह बहुत ही पार्टी के लिया बहुत ही शर्म की बात है, और हमारी पार्टी कतई भी ऐसे अपराधी किस्म के लोगों के साथ नहीं हैं। पार्टी जल्द ही इस मामले में कोई सख्त कदम उठा सकती है।

Latest News

Latest News